December 4, 2020

जडेजा बन रहे हैं फिनिशर, कोलकाता का फंस गया पेंच

Ravindra Jadeja match finisher

महेंद्र सिंह धोनी ने वर्षों तक दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर के रूप में चेन्नई को ढेरों जीत दिलाई और तीन बार चैंपियन बनाया लेकिन आईपीएल के 13 वें सत्र में चेन्नई के लिए धोनी की यह भूमिका अब सर रवींद्र जडेजा निभा रहे हैं। जडेजा ने एक बाद फिर वह काम चेन्नई के लिए कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ मैच में किया।


चेन्नई को आखिरी दो ओवर में जीत के लिए 30 रन चाहिए थे। रवींद्र जडेजा ने 19 वें ओवर में लॉकी फर्ग्युसन की चौथी गेंद पर चौके जमाया। फर्ग्युसन की अगली गेंद नो बॉल रही जिस पर जडेजा ने दो रन ले लिए। इस गेंद पर कुल तीन रन गए। जडेजा ने फ्री हिट पर शानदार छक्का मार दिया। जडेजा ने अंतिम गेंद पर विकेट के पीछे चौका निकाल दिया।

इस ओवर में 20 रन गए। आखिरी ओवर में चेन्नई को जीत के लिए 10 रन चाहिए थे और कमलेश नागरकोटी की आखिरी दो गेंदों पर आंकड़ा सात रन का रह गया। जडेजा ने पांचवीं गेंद पर छक्का मारकर स्कोर बराबर कर दिया। जडेजा ने आखिरी गेंद पर भी छक्का मारा और चेन्नई ने जीत अपने नाम कर ली। युवा बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड को उनकी 72 रन की शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।


चेन्नई सुपरकिंग्स ने कोलकाता नाईट राइडर्स को छह विकेट से हराया और कोलकाता को प्लेऑफ की होड़ में फंसा दिया। कोलकाता ने सलामी बल्लेबाज नीतीश राणा की 87 रन की पारी से पांच विकेट पर 172 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि चेन्नई ने 20 ओवर में चार विकेट पर 178 रन बनाकर रोमांचक जीत हासिल कर ली। जडेजा ने मात्र 11 गेंदों पर नाबाद 31 रन में दो चौके और तीन छक्के लगाए।


चेन्नई की 13 मैचों में यह पांचवीं जीत है लेकिन वह तालिका में आखिरी स्थान पर है। कोलकाता को 13 मैचों में सातवीं हार का सामना करना पड़ा और वह 12 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है। कोलकाता की हार के साथ मुंबई इंडियंस ने अब आधिकारिक तौर पर प्लेऑफ में जगह बना ली है। कोलकाता के लिए इस हार से स्थिति बिगड़ गयी है। कोलकाता को एक नवम्बर को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ जीतना होगा और साथ ही दूसरी टीमों के परिणाम पर नजर रखनी होगी। चेन्नई का आखिरी मुकाबला एक नवम्बर से किंग्स इलेवन पंजाब से होगा।


कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर निराश किया। रहस्यमय स्पिनर वरुण चक्रवर्ती ने अपनी तेज गेंद से धोनी को बोल्ड कर दिया। धोनी चार गेंदों में एक रन बनाकर पवेलियन लौट गए। चक्रवर्ती ने धोनी को कोलकाता और चेन्नई के पिछले मुकाबले में भी बोल्ड किया था। लेकिन धोनी के लिए संतोष की बात यही रही कि उनकी टीम ने लगातार दूसरा मुकाबला जीत लिया। गायकवाड ने लगातार दूसरा अर्धशतक बनाया।


इससे पहले कोलकाता की पारी में नीतीश राणा ने 61 गेंदों पर 87 रन में 10 चौके और चार छक्के लगाए। शुभमन गिल ने 17 गेंदों पर 26 रन में चार चौके लगाए। पूर्व कप्तान दिनेश कार्तिक 10 गेंदों में तीन चौकों के सहारे 21 रन बनाकर नाबाद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *