January 25, 2021

असम राइफल्स पब्लिक स्कूल बना पूर्वोत्तर क्षेत्र का पहला खेलो इंडिया स्पोर्ट्स स्कूल

1 min read
Assam Rifles Public School became the first Khelo India Sports School in the Northeast region

केन्द्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने शिलांग में असम राइफल्स पब्लिक स्कूल (एआरपीएस) काएक खेलो इंडिया स्पोर्ट्स स्कूल के रूप में शुभारंभ किया है। वर्तमान में, देश भर में नौ (9) स्पोर्ट्स स्कूलों को मंजूरी दी गई है, जिनमें से पांच (5) का प्रबंधन रक्षा एवं अर्ध-सैनिक बलों द्वारा किया जाता है। असम राइफल्स पब्लिक स्कूल पूर्वोत्तर क्षेत्र में खेलो इंडिया योजना के तहत घोषित होने वाला पहला स्पोर्ट्स स्कूल है।

अब सरकार इस स्कूल के खेल से जुड़े प्रतिभाशाली छात्रों के रहने, खाने, शिक्षा खर्च, प्रतियोगिताओं में भागीदारी, बीमा एवं चिकित्सा, खेल संबंधी प्रशिक्षण एवं सहायता, प्रशिक्षकों एवं सहायक कर्मचारियों के वेतन, खेल उपकरण और अन्य संबद्ध कार्यों का खर्च वहन करेगी। खेलो इंडिया स्पोर्ट्स स्कूल का उद्देश्य शिक्षा के साथ खेल का समन्वय करना है और इस प्रक्रिया में देश में खेलों काविकास करना और एथलीटों के प्रदर्शनएवं दृष्टिकोण में समग्र सुधार करना है। यह स्कूल पूर्वोत्तर, ग्रामीण या जनजातीय क्षेत्रों में प्रतिभाओं की पहचान और उनके उत्थान में भी मददगार साबित होगा।

रिजिजू ने कहा, “यह असम राइफल्स पब्लिक स्कूल की एक ऐतिहासिक यात्रा की शुरुआत है और यह खेलो इंडिया स्पोर्ट्स सेंटर युवा लड़कों और लड़कियों की प्रतिभा को निखारेगा, जो आगे चलकर ओलंपिक में पदक लाएंगे।”

केन्द्रीय मंत्री ने इस स्कूल में कई सकारात्मक बदलाव लाने के लिए असम राइफल्स के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल सुखदीप सांगवान के प्रयासों की भी सराहना की। उन्होंने कहा, “खेल हमेशा से इस स्कूल का एक अभिन्न हिस्सा रहा है और यह भविष्य के विजेताओं को तैयार करेगा। मुझे पिछले कई वर्षों में विभिन्न पहलों के जरिए इस स्कूल में जबरदस्त बदलाव लाने में लेफ्टिनेंट जनरल सुखदीप सांगवान के प्रयासों को अवश्य स्वीकार करना चाहिए। इस स्कूल की उपलब्धियों में यह स्पोर्ट्स स्कूल एक अतिरिक्त ताज की तरह होगा और यह भारत को एक महत्वपूर्ण खेल शक्ति बनाने के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाने में बेहद सहायक साबित होगा।”

शिक्षा एवं खेल में एक अच्छा ट्रैक रिकॉर्ड रखने, खाने और ठहरने (छात्रावास) की पर्याप्त सुविधाओं से लैस होने, खेल से जुड़ी सुविधाओं को विकसित करने के लिए पर्याप्त स्थान और युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय तथा गृह मंत्रालय के बीच एक अंतर-मंत्रालयी साझेदारी के तहत ओलंपिक खेलों के विकास के प्रति झुकाव के कारण असम राइफल्स पब्लिक स्कूल को एक खेलो इंडिया स्पोर्ट्स स्कूल के रूप में नामित किया गया। इस स्कूल के लिए निर्धारित किए गए विषयों में तीरंदाजी, एथलेटिक्स और तलवारबाजी है, जिनमें प्रथम वर्ष के लिए कुल 100 एथलीटों को (लड़कों और लड़कियों को बराबर अनुपात में) शामिल किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.