January 15, 2021

बदला चुकता, सीरीज बराबर, मेलबर्न में बने ये रिकार्ड

1 min read
Melbourne test series India vs Australia Revenge paid, series equal, these records made in Melbourne

मेलबर्न। भारत ने आस्ट्रेलिया को दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में आठ विकेट से हराकर एडीलेड में इसी अंतर से मिली हार का बदला चुकता करके चार टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर कर दी।

आस्ट्रेलिया के पुछल्ले बल्लेबाजों ने कुछ संघर्ष किया जिससे उसकी टीम सीरीज में पहली बार 200 रन बनाने में सफल रही। इस तरह से भारत को 70 रन का लक्ष्य मिला जो उसने दो विकेट खोकर
हासिल कर दिया। मयंक अग्रवाल और चेतेश्वर पुजारा फिर से नहीं चल पाये लेकिन अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे शुभमन गिल ने नाबाद 35 और कप्तान अजिंक्य रहाणे ने नाबाद 27 रन बनाये।

कैमरन ग्रीन (45) और पैट कमिन्स (22) ने चौथे दिन सुबह पहले घंटे में भारत को सफलता नहीं मिलने दी लेकिन भारतीय गेंदबाजों के सामने उनका संघर्ष ज्यादा नहीं चल पाया।

भारत की तरफ से पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने तीन जबकि जसप्रीत बुमराह, रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा ने दो-दो विकेट लिये। उमेश यादव ने कल एक विकेट लिया था जिसके बाद चोटिल होने के कारण उन्होंने मैदान छोड़ दिया था।

भारत की यह 544 टेस्ट मैचों में 158वीं जीत है। विदेशी धरती पर उसने अपनी 52वीं जीत हासिल की लेकिन मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर उसने नया रिकार्ड बनाया। एमसीजी पर भारत की यह चौथी जीत है जो किसी विदेशी मैदान पर भारतीय टीम का नया रिकार्ड है।

भारत ने भारत ने क्वीन्स पार्क ओवल पोर्ट ऑफ स्पेन, सबीना पार्क किंगस्टन और सिंहलीज स्पोर्टस क्लब ग्राउंड कोलंबो में भी तीन तीन मैच जीते हैं। भारतीय मैदानों पर यह रिकार्ड एम ए चिदंबरम स्टेडियम चेन्नई के नाम पर हैं जहां भारत ने 14 टेस्ट मैच जीते हैं। भारत ने दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान और कोलकाता के ईडन गार्डन्स में 13-13 टेस्ट मैचों में जीत हासिल की है।

इस मैच में अजिंक्य रहाणे ने फिर से खुद को सफल और कुशल कप्तान साबित कर दिया। उनकी अगुवाई में भारत ने लगातार तीसरा टेस्ट मैच जीता। वह महेंद्र सिंह धौनी के बाद भारत के दूसरे ऐसे कप्तान बन गये हैं जिन्होंने अपने पहले तीन टेस्ट मैचों में जीत दर्ज की।

रहाणे की अगुवाई में भारत ने 2016-17 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में और 2018 में अफगानिस्तान के खिलाफ बेंगलुरू में जीत हासिल की थी।

यही नहीं भारत ने पिछले 10 वर्षों में विदेशी धरती पर पहले क्षेत्ररक्षण करते हुए पहली बार मैच जीता। इससे पहले उसने अगस्त 2010 में कोलंबो में श्रीलंका को पांच विकेट से हराया था। आस्ट्रेलिया ने 2011-12 में न्यूजीलैंड के खिलाफ होबार्ट में सात रन की हार के बाद पहली बार अपनी सरजमीं पर टास जीतने के बावजूद मैच गंवाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.