November 27, 2020

दिल्ली और बेंगलोर की पेंच फंसा सकते हैं मुंबई और हैदराबाद

IPL 2020 playoffs

दुबई। इंडियन प्रीमियर लीग के ‘डबल हेडर’ में शनिवार को चार टीमें मैदान पर उतरेंगी उनमें से तीन टीमें जीत दर्ज करने के लिये बेताब होगी जबकि एक अन्य प्लेआफ में जगह पक्की होने के कारण स्वच्छंद होकर क्रिकेट खेलेगी और नंबर एक स्थान पर अपने पांव मजबूती से जमाने की कोशिश करेगी।


शनिवार को दुबई में पहले मैच में दोपहर बाद तीन बजकर 30 मिनट पर दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियन्स आमने सामने होंगे। मुंबई की टीम के 12 मैचों में 16 अंक हैं और वह प्लेऑफ में जगह पक्की करने वाली पहली टीम है। दिल्ली के 12 मैचों में 14 अंक हैं और एक जीत से वह भी नाकआउट के लिये क्वालीफाई कर जाएगी ।

दिन का दूसरा मैच रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच शारजाह में खेला जाना है। आरसीबी के 12 मैचों में 14 अंक हैं और उसे भी दिल्ली की तरह प्लेआफ में जगह पक्की करने के लिये एक जीत की आवश्यकता है। हैदराबाद के 12 मैचों में 10 अंक हैं और उसे अगर प्लेआफ की उम्मीद जिंदा रखनी हैं तो अपने बाकी बचे दोनों मैच जीतने होंगे।

इनके अलावा कोलकाता नाइट राइडर्स, किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रायल्स भी अभी प्लेआफ की दौड़ में बने हुए हैं। केवल तीन बार का चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स ही नाकआउट की दौड़ से बाहर हुआ है। अब वह बाकी टीमों का खेल बिगाड़ रहा है। जैसा हमने अपनी पिछली रिपोर्ट में लिखा था उसने गुरुवार को कोलकाता का खेल खराब कर दिया जिसके अब 13 मैचों में 12 अंक हो गये हैं और अंतिम मैच जीतने पर भी उसका प्लेआफ में स्थान पक्का नहीं हो पाएगा।

दिल्ली को अगर मैच जीतना है तो उसके बल्लेबाजों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा क्योंकि हैदराबाद के खिलाफ उसके बल्लेबाज नहीं चल पाये थे। गेंदबाजों में भी कागिसो रबादा और एनरिक नोर्त्जे ही लगातार अच्छी गेंदबाजी कर पा रहे हैं। दूसरी तरफ मुंबई की टीम रोहित शर्मा के चोटिल होने के बावजूद हर विभाग में मजबूत नजर आ रही है। इसलिए इस मैच में भी मुंबई जीत के दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा।

आरसीबी और हैदराबाद के बीच मैच में दोनों टीमें जीत के लिये अपना दम लगा देंगी यह सुनिश्चित है। आरसीबी पिछले मैच में हार से आहत होगी लेकिन हैदराबाद की टीम उत्साह से लबरेज है। हैदराबाद के लिये ऋद्धिमान साहा की चोट चिंता का विषय होगी जिन्होंने पिछले मैच में धमाकेदार बल्लेबाजी की थी। अगर साहा फिट होते हैं और कप्तान डेविड वार्नर के साथ मिलकर टीम को फिर से अच्छी शुरुआत दिलाते हैं तो फिर आरसीबी के लिये जीतना मुश्किल हो जाएगा जिसके गेंदबाज निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं।

यह देखना भी दिलचस्प होगा कि विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और देवदत्त पडिक्कल जैसे बल्लेबाज लेग स्पिनर राशिद खान का कैसे सामना करते हैं जिन्होंने पिछले मैच में चार ओवर में सात रन देकर तीन विकेट लिये थे। हैदराबाद को अगर मैच जीतना है तो कोहली, डिविलियर्स और पडिक्कल पर अंकुश लगाना होगा क्योंकि आरसीबी का निचला मध्यक्रम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *